Mobile की बैटरी क्यूँ फूल जाती हैं? कैसे सेफ रहे ? | Swollen Battery

0
2127

हो सकता है की आपको ये फोटो शॉकिंग लग रही हो. पर आपको ये पिक्चर और भी ज्यादा shocking tab लगती जब ये बैटरी फट चुकी होती. जी बिलकुल, आपने फूली हुई बैटरी देखी ही होंगी और ये फूली हुई बैटरी अगर ब्लास्ट होती हैं तो फ़ोन का तो नुक्सान होता ही है और साथ ही साथ में जिस किसी की पॉकेट में रखी हो (आगे ये पीछे 😉 कहीं भी ) उसका भी काफी नुक्सान हो सकता है. तो इस पोस्ट में जानेंगे की

  • क्यूँ फूलती हैं ये बैटरी ?
  • कैसे आपको नुक्सान पंहुचा सकती हैं?
  • कैसे बचा सकते हैं फूलने से?
  • और अगर फूल गयी तो क्या करना है?
Swollen mobile battery
Mobile की बैटरी क्यूँ फूल जाती हैं?

क्या कारण होते हैं बैटरी फूलने के

देखा जाए तो मोटा मोटा दो कारण की वजह से ही कोई भी बैटरी फूलती है. पहला सॉलि़ड और दूसरा गैस. जब भी बैटरी बनाने वाले मैन्यूफैक्चर इसे बनाते हैं तो उसके लेबल पर आईडेंटिफाई करते हैं की इसके अन्दर केमिकल रिएक्शन होने की वजह से इससे गैस release होगी या फिर सॉलिड. बैटरी के अंदर जो रिएक्शन से होती हैं उसमें कुछ-कुछ गैसेस बाहर निकलते हैं लेकिन बैटरी की wrapping इस तरह डिजाईन होती है कि वह गैस को बाहर आने से रोकता है इस कारण से बैटरी फूल जाती हैं.

दूसरा reason यह है कि बैटरी के अंदर जो केमिकल रिएक्शन होती है, उसकी वजह से कुछ प्रोडक्ट्स सॉलि़ड मैटेरियल के रूप में भी बनते हैं जो बैटरी के अंदर इकट्ठा हो जाते हैं. इन दोनों चीजों की वजह से बैटरी अपने नॉर्मल शेप से ज्यादा फूल जाती है.  बैटरी का डिजाइन इस तरह किया जाता है कि इस तरह निकलने वाली गैस और सॉलिड ना के बराबर प्रोड्यूस हो लेकिन कुछ कुछ मालफंक्शन होने की वजह से, यूजर के गलत इस्तेमाल से या फिर अन्य कारण, जो कि हम डिस्कस करेंगे, उनकी वजह से बैटरी फूल ही जाती हैं.

 

क्या ओवरचार्जिंग बैटरी को फुला सकती है?

वैसे तो नहीं. मोबाइल फोन के अंदर एक इस तरह का सर्किट डिजाइन रहता है कि वह बैटरी को फुल चार्ज होने के बाद चार्जिंग सिस्टम से ऑटोमेटिकली डिस्कनेक्ट कर देता है. पर अगर यह सिस्टम फेल हो जाए तब बैटरी फूल सकती है. दूसरा कारण यह भी है कि अगर आप बैटरी को उसके रेटिंग के चार्जर के अलावा किसी अन्य चार्जर से चार्ज करते हैं तब भी बैटरी के चार्ज होने का रेट ज्यादा होने की वजह से उसके अंदर रिएक्शंस डिफाइन तरीके से अलग तरीके से होने के कारण आप की बैटरी के मालफंक्शन होने के और फूलने के चांसेस रहते हैं.

Swollen mobile battery
Swollen mobile battery

क्या यह खतरनाक है?

जी बिल्कुल. जो हमने सॉलि़ड और गैस swelling (फूलना) ऊपर बताया है उसमें सॉलिड स्वेलिंग काफी खतरनाक साबित हो सकता है. अगर यह हाई प्रेशर और हाई टेंपरेचर पर बैटरी expose हो जाए तो बैटरी में ब्लास्ट भी हो सकता है. गैस स्वेलिंग इतनी ज्यादा हानिकारक नहीं है लेकिन यह फोन को नुकसान पहुंचा सकती है.

बैटरी का फूलना कैसे रोके ?

वैसे तो मोबाइल के मैनुफैक्चरर्स चार्जिंग होने के बाद ऑटोमेटिकली फोन को चार्जिंग सर्किट से डिस्कनेक्ट कर देते हैं. लेकिन चीप क्वालिटी के मैन्यूफैक्चर और कुछ चार्जिंग बग्स की वजह से इस तरह की घटनाएं हो सकती हैं. इससे बचाने के लिए

फोन को नार्मल टेंपरेचर में ही ऑपरेट करें.
ज्यादा टेंपरेचर होने पर फोन का इस्तेमाल ना करें.
रात भर के लिए फोन को चार्जिंग पर ना डालें.
कंपलीट चार्जिंग होने के बाद अपने फोन को चार्जिंग से हटा दें.

फिर भी फूल गयी तो ?

अगर आपकी फोन की बैटरी आपको फूली हुई लग रही है तो इस बैटरी को तुरंत रिप्लेस कर दें.क्योंकि बैटरी फूलने के बाद उसमें ब्लास्ट होने की गुंजाइश और ज्यादा हो जाती है और यहां के फोन और आपके दोनों के लिए घातक साबित हो सकती है.  

शेयर कीजिये अपने चाहने वालो को. नीचे दिए गए icon से आप इस आर्टिकल को whatsapp, facebook और मेल तक कर सकते हैं. तो शेयर कीजिये अभी के अभी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here