गूगल का प्रोजेक्ट Treble क्या है. कैसे होगा आपको फायदा या नुक्सान, जानिये .

हैल्लो, आपने इधर उधर, जाने अनजाने project  ट्रेवल के बारे में तो सुना ही होगा. इस discussion में हम जानने की कोशिश करेंगे की

  • क्या है ये प्रोजेक्ट Treble ?
  • और कैसे आपको इफेक्ट कर सकता है ?
  • क्यों आपको इसके बारे में जानना चाहिए ?
  • कैसे आप देख सकते हैं कि किसी स्मार्टफोन में आपको प्रोजेक्ट ट्रेवल मिलेगा कि नहीं ?
  • कौन्स से ऐसे पॉपुलर स्मार्टफोन हैं जो प्रोजेक्ट ट्रेवल को सपोर्ट करते हैं ?

एंड्राइड अपडेट काम कैसे करती हैं?

सबसे पहले हमें यह जानना बहुत जरूरी है की एंड्राइड की अपडेट काम कैसे करती है. सबसे पहले Google की तरफ Android का एक मेजर वर्जन निकलता है. मान लीजिए आपका फोन एंड्रॉयड नॉगट पर था और Google ने एंड्रॉयड Oreo रिलीज कर दिया.  फॉर example, आपका फोन एंड्रॉयड नॉगट पर था और फिर Google ने एंड्रॉयड ओरियो रिलीज कर दिया अब आप Motorola या Samsung का फोन यूज करते हैं उस फोन में कस्टम स्किन होती है और वह कस्टम स्किन में Motorola या Samsung का खुद का कोड होता है जो वह बेसिक Android के ऊपर लिखते हैं यानी की एंड्राइड के नेटिव कोड को customize करते हैं.

Image result for android updates

क्यूँ लगता है टाइम अपडेट आने में 

और इसके अलावा आपके फ़ोन का जो हार्डवेयर होता है, जैसे कि क्वालकॉम स्नैपड्रैगन प्रोसेसर या फिर मीडियाटेक प्रोसेसर है तो उस हार्डवेयर का कोड भी अपडेट होना भी जरूरी होता है तो Google सबसे पहले अपना कोड लिखता है. उसके बाद जाता है वह हार्डवेयर manufacturers के पास. और फाइनली पहुँचता है device मेकर्स जैसे की Motorola या Samsung. यहाँ पर device के compatible कोड लिखा जाता है. और सबसे लास्ट में release होने के बाद पहुँचता है आप तक. और फिर आपका एंड्रॉयड वर्जन अपडेट हो रहा है. लेकिन प्रक्टिकाल्ली ये होता है की इस सब प्रोसेस में, जब भी आपको एक नया अपडेट आती है तो टाइम से अपडेट मिलना बड़ा ही मुश्किल काम है और ज्यादातर updates में तो सालों लग जाते हैं. और कभी कभी तो ये होता है कि 1 से 2 साल तक भी लग जाते हैं और तो आता ही नहीं है बस यहीं पर आती है प्रॉब्लम. इस चीज को फिक्स करने के लिए Google में प्रोजेक्ट ट्रेवल निकाला जिससे कि आपको फास्ट अपडेट मिल सके.

कैसे काम करता है project Treble.

Image result for project treble site:google.com

Google ने अपने ही कोड में लो लेवल पर ऐसे काफी सारे सारे चेंजेस किए हैं. एंड्रॉयड ओरियो में जिसकी मदद से जो वेंडर का हार्डवेयर स्पेसिफिक कोड है जैसे की प्रोसेसर, Ram etc उन कोड को separate कर दिया है. तो अब होगा क्या कि जब भी Google एक नया अपना Android का वर्जन करेगा जो भी फ़ोन इस प्रोजेक्ट को सपोर्ट करते हैं वह सारे डिवाइस manufacturer हैं वो अपने कस्टम version (स्किन)पर काम शुरू कर सकते हैं बिना हार्डवेयर कोड का वेट किए. क्योंकि इस प्रोजेक्ट पर जो अपडेट release होगी वह पुराने हार्डवेयर कोड और नए कोड पर दोनों पर अच्छे से काम करेगा. Treble प्रोजेक्ट की मदद से Google से कोड release होने के बाद manufacturer काम शुरू कर सकते हैं. तो उन्हें hardware कोड्स का वेट नहीं करना पड़ेगा और इससे आपको और हमें मिलेगी फास्ट अपडेट.

किस फ़ोन को अपडेट मिलेगी किसे नहीं?

अभी इसमें controversy चल रही है की कौन manufacturer project treble सपोर्ट करेगा और कौन नहीं. OnePlus और नोकिया हमेशा से ही Treble को सपोर्ट करने में इंटरेस्ट दिखा रहे हैं. नीचे एक लिस्ट बनी ही है. वो आप देख सकते हैं.

Devices officially updated with Project Treble support

Google

Google Pixel XL

Google Pixel

Honor/Huawei

Huawei P10 (Source)

Huawei P10 Lite

Huawei P10 Plus (Source)

Huawei Mate 9 Pro (Source)

Huawei Mate 10 Lite/Honor 9i

Huawei Mate 9 (Source)

Huawei Nova 2

Honor 7X (Source)

Honor 8 (Source)

Honor 8 Lite/Huawei P8 Lite 2017 (Source)

Honor 8 Pro (Source)

Honor 9 (Source)

OnePlus

OnePlus 5

OnePlus 5T Xiaomi

Xiaomi

Xiaomi Redmi Note 5 Pro (Source)

Others

ASUS Zenfone 4 (Source) – No vendor partition, so cannot flash GSI

Essential Phone (Source)

Razer Phone (Source)

Sharp Aquos S2

Nitin Arya

He is lucky be to a fast-growing YouTuber. Like every third person now in india, he is an engineer, working as manager in public sector. A photographer and a science teacher who usually deviates to the miracles of science rather than completing syllabus.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: