Module 2 | Fundamentals of Python| Part 1

0
163
Photo by Lukas on Pexels.com



Chapter # 1 | Basic Intro and Python Character set

 

हम सभी को पता है की कोई भी device जैसे कंप्यूटर IPO cycle पर चलता है. अभी आप सोच रहे होंगे की chapter शुरू करते ही नयी term. कोई बात नहीं सब समझते हुए चलेंगे. IPO क्या होता है –Input, process, और output. जब हम किसी device को input देते है दो वो उसे कुछ logic लगा के process करता है और फिर हमे output देता है. ठीक वैसे ही programs भी IPO cycle पर ही चलता है. आप चाहे जो भी करो लेकिन अगर आपको किसी input से output निकालना है तो आपको प्रोग्राम चाहेये. अब सवाल ये उठता है की भाई, ये प्रोग्राम क्या होता है?

Program एक सेट है instructions का जो processing को govern करता है. मतलब जैसे की आपको कोई काम करना है तो आप किसी भी person को कुछ instructions देंगे. उन सब instructions को एक साथ मिला दिया जाए तो उन्हें set of instructions बोलेंगे. कंप्यूटर की language में उन्हें प्रोग्राम कहा जाता है.

जब हम अपनी मात्रभाषा हिंदी सीख रहे थे तब हमने उस भाषा के fundamentals पहले सीखे थे. जैसे स्वर, व्यजन, शब्द बनाना ये सब उसके मूल यानी की basic blocks थे. ठीक वैसे ही python language सिखने के लिए भी हमे उसके fundamentals सिखने पड़ेंगे तो ही हम आगे की सीढ़ी चढ़ पाएंगे. तो चलिए हम अपना इस language को सिखने के प्रति अपना पहला sincere step लेते है.

जैसे हिंदी में स्वर और व्यजन उसके character सेट है वैसे ही python के भी python character set है:

character set एक valid character का सेट है जिसे python language समझ पता है. character कोई letter, डिजिट, या कोई symbol भी हो सकता है.


Python के ये character सेट है:

  • Letters A-Z, a-z
  • Digits 0-9
  • Special symbols space + – * / ** () {} [] // = != == <> . ‘ “” , ; : % & <= >= @ # >>> << >> _(underscore)
  • White spaces Blankspace, tabs( →), carriage return, Newline, formfeed
  • Other characters

Python कोई भी ASCII और unicode character को part of data या literals को process कर सकता है. ( ASCII- american standard code for information interchange )

Letters :

ये letters हिंदी के क, ख, र के जैसे है ये letters कभी कभी variable के नाम देने वक़्त काम आता है. जैसे –

a = 5 # 5 a को assigned किया गया है.

for a in range (1,5) : # यहाँ पे भी a variable की तरह काम कर रहा है.

Digits:

Digits में 0-9 के combination से अलग अलग नंबर बनते है. हमे पता है की arithmetic operation जैसे addition, subtraction, multiplication, division, exponential आदि ये सब के लिए नंबर ज़रूरी है. जैसे-

1+9 = 10

5-3 = 2

5**2 = 25 # यहाँ पर ** exponential का काम करता है.

Special symbol :

special symbol का उपयोग अलग अलग condition, syntax, prefrences, comparison आदि के लिए होता है. जैसे-

== # दो condition के comparison के लिए होता है

a == b # यहाँ पर a और b के बीच compare हो रहा है की दोनों equal है की नहीं

# # ये कमेंट लिखने के लिए उपयोगी है.

a >= b # यहाँ यह देखा जा रहा है a b से बड़ा या equal है या नहीं.

5//2 = 2 # क्योकि // को floor division कहते है. इसमें सिर्फ whole नंबर output आता है.

यहाँ पर >>> के बाद जो instruction लिखा जाता है वो हमे स्क्रीन पर दिखता है. यानी की इस symbol के बाद लिखी हुए पार्ट को आप इंस्ट्रक्शन मान सकते हैं.

Whitespaces:

यहाँ पे whitespaces सिर्फ space, next लाइन, tabs ये सब के लिए उपयोगी है.

Other character :

python ASCII और unicode दोनों के values को समझ सकता है और उसे data या literals process करते वक़्त इसतेमाल कर सकते है. ASCII एक code है जो 128 इंग्लिश character को नंबर के फॉर्म में code दिया है.ज्यातर कंप्यूटर ASCII code पर चलते है. ठीक वैसे ही unicode भी है लेकिन ये ASCII का सुपरसेट है.



Chapter #2 | Tokens & Keywords

 

Tokens

जब हम कोई पद्यांश लिखते हैं तो जो शब्द noun, adjective या जो individual होते हैं और punctuation marks ये सभी tokens या lexical unit या lexical elements होते हैं. एक program की सबसे छोटी (smallest) unit (इकाई) जो होती है उसे token या lexical unit कहते हैं.

Python के following tokens हैं:

 

  1. Keywords
  2. Identifiers(Names)
  3. Literals
  4. Operators
  5. Punctuators

जैसे हम हिंदी की पद्यांश लिखते है तब भी हमारे पास कुछ शब्द पहले से ही fixed होते है एक specific use के लिए जैसे- लड़का, पानी, ये शब्द हम उसके अर्थ के हिसाब ही इस्तेमाल करते है ये keywords हैं. ठीक वैसे ही किसी चीज़ को हम नाम देते है पहचाने के लिए programming language में ये सब indentifiers हैं. कोई नाम, नंबर, space ये सब literals हैं. +, -, /, — ये सब operators हैं. , (comma), . (full stop), :(collon), ; (semi-collon), “ & ‘ (puncutaions). ये सब punctuators हैं.

Keywords

keywords वो शब्द है जो compiler या interpreter को special meaning देता हैं. ये words को programming language reserved रखते हैं. ये identifiers (names) के लिए उपयोग नहीं होते.

Python programming language में following keywords होते हैं:

False assert del in or
for while None break elif
from is pass with True
class else global lamda raise
yield and continue except if
nonlocal as import not
return def finally try

False: ये keyword एक value की तरह काम करता है. जैसे- 2 == 3 ये False statement है और False value return करेगा.

del: ये delete का shortform है. ये किसी value को delete करने का काम करता है. जैसे-

a = 5

del a

or : दो condition में से कोई भी condition अगर True है तो ये True return करेगा. x और y दोनों variable है जिसमे अलग values दी गई है.

x y x or y
0 0 0
0 1 1
1 0 1
1 1 1

and: जब दोनों condition true होते है तब ये true value return करता है.

x y x and y
0 0 0
0 1 0
1 0 0
1 1 1

while और for: ये दोनों loop के नाम है.

None: ये भी एक value है जब हमे variable में कोई भी value स्टोर नहीं करनी होती है तो None value है.

as: जब भी हम कोई module import करते है तो उसे दूसरा नाम program में दिया जाता है. जैसे- import keyword as sdkey

assert: assert program में debugging के लिए इसतेमाल होता है. जब assert का condition true होता है तब कुछ मेसेज नहीं आता पर जब condition false होता है तब assertion error दिखता है.

break: loop में से किसी condition के true या false होने के कारण अगर अचानक loop के बाहर आना होता है तो break statement का उपयोग होता है.

class : program में किसी class को define करने के class के नाम के आगे class keyword का इसतेमाल होता है. जैसे-

class car:

print “Hello”

except: except keyword exception या error handling के लिए करते हैं. इसमें try clause का इसतेमाल साथ में होता है.

nonlocal: nonlocal keyword nested loop में करते हैं. nested का मतलब loop ले अन्दर loop. जो variable इस keyword के साथ होता है ना तो ये local या global होता है. इसकी value outer loop में नहीं बदली जा सकती अगर इसे inner loop में declare होता है.

global: global keyword किसी function के variable को module में global करने के लिए होता है.मतलब function के बाहर हम इसकी value सेट कर सकते हैं.

import: किसी दुसरे module को जन current program में लाना होता है तो इसे import module का नाम लिख कर लिया जाता है. जैसे: import math यहाँ math एक module का नाम है.

बाकी के keywords हम जैसे जैसे इसतेमाल करेंगे वैसे हम सीखेंगे. इसे याद रखने की कोई need नहीं है प्रैक्टिस के साथ आ जायेगा.



Chapter3 |Identifiers and operators

 

Identifiers (Names)

Identifiers program के fundamental blocks हैं और उसे names के general terminology के लिए use करते हैं. ये names program के अलग अलग parts जैसे – variables, objects, classes, functions, lists, dictionaries को दिए जाते हैं. पर बस एक छोटी सी बात वो ये कि Identifier देने के लिए python में नीचे दिए गए rules follow करने होते हैं:

  • Identifier एक लम्बी sequence letters और digits की होती है.
  • Name का पहला character letter होना जरूरी है. अंडरस्कोर (_) letter में गिनते हैं.
  • Upper और lower case letters अलग होते हैं. सभी characters significant होते हैं.
  • Digit 0 से 9 तक indentifier के हिस्सा होते हैं परन्तु पहला character कभी भी digit नहीं हो सकता.
  • Identifier की length अनलिमिटेड होती हैं. python case sensitive होती है मतलब python upper और lower case character को अलग अलग define करता है.
  • Identifier कभी भी python का keyword नहीं हो सकता है.
  • Identifier में special character नहीं हो सकता है सिर्फ underscore(_) ही indentifier का part हो सकता है.

नीचे दिए गए identifier valid है:

Mybook Date31_5_7 P0TS56

MYSLAM _RF _FG9_J3

ये नीचे दिए गए identifier invalid हैं :

DATA-REC इसमें special character hyphen(-) है. ये हम identifier में शामिल नहीं कर सकते.

45CLR identifier का पहला character digit है.

return ये reserve keyword है.

mod.art इसमें special character डॉट(.) है.

Operators

Operator tokens होते हैं जो variable या कोई दूसरे objects, जो expression में है, उस पर apply करके computation के लिए उपयोग होता है. Variables और objects जिस पर computation के लिए apply किया जाता है वो operand कहलाते है. operator को operand काम करने के लिए आवश्यकता है.

नीचे दिए गए operators brief में describe किये हुए है:

Unary operator:

Unary operator वो operators है जिन्हें सिर्फ एक ही operand चाहिए उसके उपर operation perform करने के लिए नीचे दिए गए unary operator हैं:

+ unary plus

unary minus

~ bitwise complement

not logical negation

Binary operator:

Binary operators वो operators हैं जिन्हें 2 operands की ज़रुरत होती है किसी भी operation को perform करने के लिए. नीचे दिए गए operators बाइनरी operators है.

Arithmetic operators:

Sign

Name

+ Addition
Subtraction
* Multiplication
/ Divison
% Remainder/modulus
** Exponent(raise to power)
// Floor divison

1

Bitwise operators

& Bitwise AND
^ Bitwise exclusive OR(XOR)
l Bitwise OR

Shift operators

<< Shift left
>> Shift right

Identity operators

is is the identity same?
is not Is the identity not same?

2

Relational operators : ये दो condition को relate करती है दोनों condition चेक करके true या false output देती है.

< Less than
> Greater than
<= Less than or equal to
>= Greater yhan or equal to
!= Not equal to
== Equal to
<> Not equal to

3

Assignment operator

= Assignment
/= Assign quotient
+= Assign sum
-= Assign difference
*= Assign product
**= Assign exponent
%= Assign remainder
//= Assign floor division

उपर के row में = को छोड़ सभी operators को शॉर्टहैंड operators भी कहते हैं क्यूकि ये operator operation perform करके operand के variable में value स्टोर हो जाती है.

4

Logical operators: and में दोनों condition true होने चायेही और or में कोई भी एक true होने की ज़रुरत है.

and Logical AND
or Logical OR

6

Membership operators: ये चेक करता है की कोई operand दुसरे operand में है या नहीं.

In variable जब sequence में है तब true देगा.
not in Variable sequence में नहीं है तब true देगा

5

important note: operators की डिटेल हम data handling के part में discuss करेंगे.

Punctuators:

punctuators वो symbols है जो programming language में sentence structure को organize करने के लिए , या rhythm और emphasis expressions, statements और program structure के लिए उपयोग होता है.

कॉमन punctuators: ‘ “ () {} [] @ , : ; =



Chapter #4 | Literals / Values

 

Literals ( जिसे अक्सर हम constant – values से refer करते हैं) वो data items हैं जिसकी value fixed है. Python कई तरह के literals को allow करता है. नीचे उसके प्रकार दिए हैं:

  1. String literals
  2. Numeric literals
  3. Boolean literals
  4. special literal None
  5. literal collections

String literals:

जो text quotes में enclosed होते हैं उससे string literal बनते हैं. जैसे- ‘d’, ‘as’ ये सब python में string literal होते हैं. Single या double quotes में चाहे वो एक character हो या उससे ज्यादा वो सभी string literal हैं. जैसे- “word”, “string”. Python में ये valid string literals हैं:

“preeti” “Naman” ‘hello’ ‘123’ ‘1-5l-0’ “125FK56”

Python कुछ nongraphic-characters को string की तरह इसतेमाल करने देता है. Nongraphic – characters वो characters हैं जिसे keyboard से directly type नहीं किया जा सकता. ये nongraphic – characters को / blackslash से शुरू करते हैं यानी की / (backslash) पहला character होता है और उसके बाद एक या दो character से represent करते हैं.

नीचे दिए गए टेबल में सभी nongraphic – character लिखे हैं, इन्हें देख कर आपको कुछ idea लगेगा :

Escape sequence क्या काम करता है.
\ Blackslash()
Single quote(‘)
Double quote(“)
a ASCII Bell (Bel)
b ASCII Backspace(BS)
f ASCII formfeed
n New line character
N{name} characters जो unicode database में लिखे हैं.
r Carriage return (CR)
t Horizontal Tab(TAB)
uxxxxx Character जो 16-bit hex value xxxx(unicode only) के साथ है.
Uxxxxxxxx character जो 32-bit hex value xxxxxxxx(unicode only) के साथ है.
v
ooo character octal value ooo के साथ.
xhh character hex value hh के साथ.

जब ये character बिना blackslash के उपयोग होता है तो इसका अलग meaning होता है. ऊपर दिखाए गए escape sequence को जैसे लिखे हुए हैं बिलकुल वैसे ही लिखना होगा.

String के python में type:

  1. Single line strings
  2. Multiline strings

Single-line strings (Basic strings): जब हम किसी text को सिंगल (‘) या डबल (“) quotes में enclose करते हैं तो इससे single line strings बनते हैं जो एक ही line में terminate हो जाते है. जैसे की

text1 = “good morning”

लेकिन अगर हम string को दूसरी line में भी लिख रहे हैं तो ये error देगा.

1

अभी काम की बात: ये error इसलिए आ रहा है क्यूकि python by default single line string text को जब हम single या double quotes में रखते हैं तो ये उसे उसमे मान लेता है. इसलिए line के अंत में closing quotation marks रखते है ताकि opened quotation marks को बंद कर सके. वरना program run करते वक़्त error देगा.

Multiline strings: कभी कभी हमे कुछ text को बहुत सारी line में रखना होता है पर एक ही string की तरह तो इसे multiline string कहते हैं.

Multiline string बनाने के लिए python दो तरीके देता है:

पहला तरीका : normal single-quote/ double –quote strings के अंत में blackslash add करने से.

2

दूसरा तरीका : किसी text को triple quotes में type करने से वो multiline string में गिना जाता है. इसमें line के अंत में डालने की ज़रुरत नहीं है.

3

यहाँ n नयी line दिखने के लिए यूज़ होता है.

string की size:

कई बार क्या होता है की आपको string की length जानने की जरूरत होती हैं. तो python string की length पता कर सकता है. length में सभी character count होते हैं. जैसे-“hello” की length है 5. पर अगर string literal में escape sequence है तो length में वो भी count होता है. जैसे-

‘\’ size 1 है.

‘python’ size 6 है

‘piquant’s python size 16 है

‘hello’ size 6 है

multiline string के लिए:

इसके size calculate करते वक़्त EOL (end of line) character जो line के अंत में है वो भी count होता है. जैसे-

Str = “””hello

World”””

इसकी size 11 है.

हलांकि जब multiline string को single/double quotes से बनाते हैं और blackslash character line के अंत में रखते है तो blackslash count नहीं होता है. जैसे-

Str1=”hello

World”

इसकी size 10 है.

4

len एक function है जो string या किसी और data type की length देता है.

तो ये थे string literals. इसके बाद numeric literals थोडा लम्बा chapter है जिसे हम अगले module यानी की fundamental ऑफ़ python पार्ट 2 में पढेंगे.

उम्मीद है कि आपको ये 4 chapters समझ में आये होंगे. इसके बाद python के fundamentals में इसका सेकंड पार्ट हम शुरू करेंगे . अगर आपके इससे रिलेटेड कुछ doubts हैं तो वो आप comment सेक्शन में डाल सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here