E- Firecrackers क्या हैं ? क्या हैं फायदे ?


दिवाली बिना पटाखों के?

जब भी हम दिवाली के फेस्टिवल सीजन की बात करते हैं, तो सबसे पहले जो हमारे दिमाग में जो बात आती है वह है  पटाखे.  दिवाली रंग बिरंगी लाइट्स का और पटाखों का कलरफुल त्यौहार है. लेकिन इसके साथ एक और बुराई जुड़ी हुई है वह जबरदस्त noise और एयर pollution. जहां एक तरफ हम लोग हर चीज एनवायरमेंट फ्रेंडली बनाने की बात करते हैं तो दूसरी तरफ हम पर्यावरण को दूषित करने के लिए पटाखे जलाते हैं.  दिवाली के अगले दिन की जो मॉर्निंग में smog ( हानिकारक धुंध) होती है वह तो आपको पता ही है.

2018-10-20_12h00_22

Solution क्या है फिर ?

चलिए, बहुत हो गयी कहानी. पटाखों से होने वाले एयर pollution का  एक सॉल्यूशन आ गया है. चाइनीस मैन्यूफैक्चर ने इस तरह के फेस्टिवल को सेलिब्रेट करने का एक सिंपल और unique तरीका निकाला है. जहां पर लाइट होगी, आवाज होगी लेकिन इको फ्रेंडली तरीके से. चलिए देखते हैं किस तरह काम करता है? क्या फायदा है? क्या नुकसान? और आप कहाँ से इसे best price में खरीद सकते हैं. 

2018-10-20_12h00_02

E-Crakers ( इलेक्ट्रॉनिक पटाखे )

एक्चुअली E-Crakers ( इलेक्ट्रॉनिक पटाखे ) इसमें बहुत सारे पटाखों की लड़ी होती है जोकि एकदम फेस्टिव मूड में डिजाइन होती है और एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के साथ वायर से कनेक्टेड रहती है. जिसमें बहुत सारी LEDs भी होती हैं जो कि आप को एकदम पटाखे वाला फील दिलाएगी.

2018-10-20_11h59_22

Also read: विभिन्न प्रकार के डायोड और उनके उपयोग

आपको बस इतना करना है कि इसे पावर सॉकेट में प्लग करना है और स्विच ऑन कर देना है. उसके बाद इसमें पटाखों का साउंड और सिमिलर टाइप की लाइट जलेगी और आपको पुराने फायरक्रैकर्स की exact feel दिलाएगी.  इसके कन्वेंशनल पटाखों पर बहुत सारे फायदे हैं. जैसे कि

  • आप इसे घर के अंदर या बाहर जब मर्जी इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • सबसे बड़ी बात  इको फ्रेंडली है और वातावरण को बिलकुल भी नुक्सान नहीं पहुंचाते
  • सुरक्षित है. जलने का, झुलसने का, आँखों के ख़राब होने का कोई डर नहीं. 
  • Reusable हैं. यानी की इस्तेमाल करो और अगले साल या फिर इंडिया पाकिस्तान के मैच के लिए संभल कर रख दो .

    E-Crakers ( इलेक्ट्रॉनिक पटाखे )
    E-Crakers ( इलेक्ट्रॉनिक पटाखे )

कैसे करते हैं काम ?

लड़ी में लगे हुए हर पटाखे में एक हाई वोल्टेज जनरेटर लगा हुआ है जिसमें स्पार्किंग होती है बिल्कुल इसी तरह जैसे मक्खी और मच्छर मारने के लिए जो मॉस्किटो रैकेट आपने मार्केट में देखे होंगे. साथ में LEDs फ्लैश करती रहती हैं जो कि real पटाखों की feel देती हैं.  

आप नीचे दिए हुए link से डायरेक्टली E-firecrackers खरीद सकते हैं. 

फ्यूचर?

आने वाले समय में इस तरह के और पटाखे आने की संभावना है. हां, यह बात तो है कि ये रियल पटाखे जैसे feel नहीं दिला पाएंगे पर हम अपने आने वाली जनरेशन को मोटिवेट कर सकते हैं इको फ्रेंडली दिवाली मनाने के लिए. E-firecrackers के साथ. 

Nitin Arya

He is lucky be to a fast-growing YouTuber. Like every third person now in india, he is an engineer, working as manager in public sector. A photographer and a science teacher who usually deviates to the miracles of science rather than completing syllabus.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: