Automatic Washroom Lights in Hindi


दोस्तों, आप सभी का इस project column में फिर से स्वागत है. आज हम एक नए project के बारे में पढेंगे और उसे बनाना सीखेंगे. यह project को आप अपने स्कूल या कॉलेज में दिखा सकते हैं. Sustainable development के बारे में तो आप सभी ने सुना होगा. आज का project हमारा इसी topic को नज़र में रख लिखा गया है. ये project energy conservation की छोटी सी पहल है. तो चलिए शुरू करते हैं.

Introduction:

इस project में, मैं आपको एक simple automatic washroom light switch circuit कैसे design करते है और उसे कैसे बनाया जाए उसके बारे में चर्चा करुँगी. ये circuit light को automatically turn on कर देगा जब आप washroom enter करेंगे और जैसे ही आप बाहर आयेंगे ये लाइट को switch off कर देगा.

Read More: Electronic Projects
Read More: Project: Water Level Indicaotr | वाटर लेवल इंडिकेटर
Read More: मल्टीमीटर ( Multimeter ) क्या है और कैसे काम करता है.

हम भी जब washroom enter करते हैं तो light को turn on करते हैं और जब बाहर निकलते हैं तो उसे turn off कर देते हैं. लेकिन कभी कभी हम lights को turn off करना भूल जाते हैं.

और इसी वजह से power wastage होता है और light bulbs की lifetime भी decrease हो जाती है. इन सभी problem को avoid करने के लिए, मै आपको ये simple circuit बनाना सिखा देती हूँ जो light को turn on/off human presence के अनुसार करेगा.

यह process को इस तरीके से automate करके बहुत सारे advantages देखने को मिलते हैं. जैसे- अब person को light को turn off/on करने की चिंता नहीं करनी पड़ेगी. यह circuit कुछ इस तरह से design किया गया है ताकि वो less power consume कर सके ताकि यह circuit किसी भी household या public washroom में इसतेमाल हो सके. और लोगो को power bill के बारे में चिंता भी नहीं करना पड़े.

Automatic Washroom Light Switch Circuit Diagram:

2019-06-02_22h28_16.png

Components Required :

इस circuit को बनाने में जो भी components लगेंगे वो नीचे दिए गए हैं:

  • Reed Switch with Magnet (available as combination)
  • LM741 Op-Amp IC
  • CD4017 Decade Counter IC
  • 5V Relay Module
  • Lamp
  • BC558 PNP Transistor
  • 2 X 10KΩ Resistor
  • 100Ω Resistor
  • 820Ω Resistor
  • Connecting wires
  • Mini Breadboard
  • 5V Power Supply

Reed switch पर brief note:

इस circuit का सबसे important component reed switch है क्यूकि यह वो element है जो project में door की opening और closing action को detect करता है. नीचे दिया हुआ figure reed switch का है.

2019-06-02_22h30_17.png

Reed switch एक magnetically operated switch है. इसमें magnetic sensitive switch होता है जो जब भी small magnetic force भी experience करता है तो या तो close होता है या open हो जाता है.(close और open mechanism switch के construction पर depend करता है.)

Reed switch दो प्रकार के होते हैं:

  • एक type के साथ Normally open contact होता है
  • दुसरे type के साथ Normally closed contact होता है.

इस project में Normally NO type switch का इस्तेमाल करेंगे जिसका usually switch open होता है और switch के पास magnet आने से यह closed होता है.

Reed switch का ज़्यादातर उपयोग हम door open है या नहीं उसे detect करने में करेंगे. यह proximity sensor की तरह भी इस्तेमाल हो सकता है.

Circuit Design :

इस circuit design के सभी important components को देखेंगे:

सबसे पहले हम LM741 Op-Amp के बारे में जानेगे. यह comparator mode में operate किया जाता है. Pin 2 LM741 का inverting input है और इसका input दो 10KΩ Resistors के द्वारा दिया जाता है.

Reed switch का एक end +5 V supply से connected होता है जबकि इसका दूसरा end PNP transistor (BC558) के base से connected होता है. यही नहीं, transistor का base भी resistor की मदद से pulled down किया जाता है.

Transistor का emitter Op-AMp के non-inverting input से connected होता है और transistor का collector +5V से connected होता है.

LM741 का pin 1 i.e. इसका output  CD4017 के CLK input से connected होता है जो की pin 14 होता है. CD4017 के pin 2 से relay के input को connect किया जाता है जबकि pin 4 को pin 15 से connected होता है.

बाकी सभी connection आप circuit डायग्राम देख कर समझ जायेंगे.

WARNING: अगर आप real light bulb का उपयोग करने का plan बना रहे तो वह AC supply पर run करता है, इसलिए आपको उसे relay से connect करते वक़्त सावधान होना चाहेयी और उसे mains supply provide करना पड़ता है.

Working:

इस circuit के working को समझाने से पहले हम आप सभी को circuit के setup के बारे में बता देते हैं. Reed switch wall पर fixed है जो की door के नजदीक ही है. जबकि magnet को आप door पर फिक्स रखेंगे. इसका मतलब यह हुआ की reed switch हमेशा ही closed state में रहेंगे क्यूकि door अधिकतर वक़्त बंद रहता है जब washroom use में नहीं होता है. Magnet को हमने switch के नजदीक ही रखा है.

मान लीजिए की आपने door को open किया है जब आप washroom में enter हुए और आपने फिर door को पीछे से बंद किया है. इस action के कारण switch open हो जाता है (जब door पहली बार open हुआ) और close होता है (जब आप door को close करते हैं).

इस action के कारण Op-Amp का output HIGH हो जाता है(जब आप door को open करते हैं) और फिर LOW हो जाता है (जब आप door को close करते हैं). इसी वजह से counter HIGH output pin 2 पर produce करता है. जैसा की आप जानते हैं की CD4017 का pin 2 हमेशा relay से connected होता है और इसी वजह से light turned ON रहती है.

Read More: Electronic Projects
Read More: Project: Water Level Indicaotr | वाटर लेवल इंडिकेटर
Read More: मल्टीमीटर ( Multimeter ) क्या है और कैसे काम करता है.

अब जब आप अपना क्रिया कर्म कर washroom का दरवाज़ा फिर से एक बार खोलेंगे और फिर से उसे बंध कर देंगे. यह action फिर से switch को open करेगा और फिर उसे close कर देगा और इसी वजह से Op-amp का high होगा और फिर low हो जाता है.

लेकिन जैसा की हम circuit diagram में देख सकते हैं की CD4017 का pin 4 reset pin के साथ connected हैं, जब सभी output LOW हो जाते हैं इसलिए relay भो turned OFF हो जाता है जिसके कारण light भी switch off हो जाता है.

Circuit का operation:

  1. जैसे figure दिया गया है वैसे ही connection कर लीजिए और circuit को power provide कर देना है.
  2. Washroom का door open कर देना है, washroom में enter करे और फिर door को close कर देना है.
  3. इस action के कारण washroom का light turn ON हो जाता है.
  4. एक बार फिर से आप door को open कर दे washroom से बाहर निकल जाए door को close कर दे.
  5. इस action से light turn off हो जाएगी.

Preeti

Preeti is pursuing her engineering under electronics engineering program. She always crave to learn the technology specially which touches the newfangled part. She has a bad habit of entering into the world of programming languages. She is still trying to be a developer and in her free time she is wordsmith to write her imaginations.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: